Read more



हमारा दिमाग शरीर का सबसे अहम हिस्सा होता है. यह हमारे पूरी बॉडी को कंट्रोल करता है. इसकी वजह से ही शरीर के बाकी अंग बेहतर तरीके से काम कर पाते हैं.
हमारा दिमाग शरीर का सबसे अहम हिस्सा होता है. यह हमारे पूरी बॉडी को कंट्रोल करता है. इसकी वजह से ही शरीर के बाकी अंग बेहतर तरीके से काम कर पाते हैं. ऐसे में हमें इसका खास ख्याल रखने की जरूरत होती है. हम अपनी सेहत का ध्यान तो रख लेते हैं, लेकिन अपने ब्रेन का ख्याल रखना भूल जाते हैं.

हमारी थोड़ी सी लापरवाही या जाने-अनजाने में अपनाई गई कुछ गलत आदतें ब्रेन के लिए बहुत हार्मफुल होती हैं. इनसे धीरे-धीरे हमारा दिमाग कमजोर पड़ने लगता है और यह काम करना बंद कर देता है. आज हम आपको बता रहे हैं कि कौन-कौन सी आदतें आपको दिमाग पर बुरा असर डालती हैं.

भरपूर नींद न लेना
अगर आप पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो इससे आपके दिमाग पर बुरा असर होने लगता है. ठीक से नहीं सोने पर आपके मस्तिष्क की कोशिकाओं का विकास रुक जाता है. वहीं, अगर आप मुंह ढक कर सोते हैं, तो यह आपके दिमाग के लिए हार्मफुल साबित हो सकता है. इससे बॉडी को भी पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है.

न लें ज्यादा तनाव
जब हम ज्यादातर तनाव में रहने लगते हैं, तो इससे दिमाग को नुकसान होता है. इससे धीरे-धीरे हमारी याद्दाश्त कमजोर होने लगती है. अगर आप ज्यादा टेंशन लेते हैं, तो सावधान हो जाइए. तनाव मुक्त रहने के लिए आप खुद को कहीं बिजी रखें. अच्छा सा म्यूजिक सुनें और योग करें.

ज्यादा गुस्सा करना ब्रेन के लिए ठीक नहीं
अगर आपको जल्दी गुस्सा आता है या अक्सर आप छोटी-छोटी बातों पर नाराज हो जाते हैं, तो इसका आपके ब्रेन पर नेगेटिव असर होता है. गुस्सा करने से मस्तिष्क की रक्त धमनियों पर बहुत प्रेशर पड़ता है. इससे दिमाग की वर्क कैपेसिटी प्रभावित होती है.

जीवनशैली
आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में लोग किसी भी तरह की एक्सरसाइज नहीं करते हैं. इससे न सिर्फ आपके शरीर को, बल्कि दिमाग को भी नुकसान होता है. ब्रेन की मांसपेशियों को एक्टिव रखने के लिए एक्टिव लाइफस्टाइल बेहद जरूरी है.

सुबह नाश्ता करना न भूलें
अगर आप स्कूल, कॉलेज, घर के काम निबटाने या दफ्तर जाने की जल्दी में रोज सुबह नाश्ता करना भूल जाते हैं, तो यह आगे चलकर बहुत नुकसान पहुंचाता है. सुबह नाश्ता न करने से दिमाग को जरूरी पोषण नहीं मिल पाता है, इसका बुरा असर ब्रेन पर पड़ता है. इससे आपको सारा दिन थकान महसूस होती रहती है.

डिस्क्लेमरः इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.